Safal aur sukhi jeevan ke 7 sutra

भौतिक प्रयासों को यदि आध्यात्मिक आधार मिल जाए तो सफलता सुनिश्चित, सुखदायी और शांतिमय रहेगी।

Safal aur sukhi jeevan ke 7 sutraप्रयास करें प्रतिदिन निम्न सात संकल्प पूर्ण करें। यदि प्रतिदिन न कर सकें तो सप्ताह के एक दिन एक संकल्प को हाथ में लें और पूर्ण करने का प्रयास करें। यदि ऐसा करते हैं तो आप पाएंगे समृद्धि, शांति और सुख आपके द्वार पर दस्तक दे रहे हैं।

सत्य – प्रयास करें हमेशा सत्य बोलें, आप सहज हो जाएंगे।

अहंकार – हर अवसर पर अहंकार छोड़ने के लिए तत्पर रहें, आप सरल हो जाएंगे।

निंदा – कभी किसी की निंदा न करें, इससे आपका मन भारी नहीं होगा, निश्चिन्तता आएगी।

पूजा – पूजा प्रतिदिन करें, प्रयास रहे, पूजा सात भागों में सम्पन्न हो। 1. सूर्य को अध्र्य दें 2. तुलसी को जल चढ़ाएं, 3.

गाय को गोग्रास दें, 4. पंचदेव पूजा करें, 5. किसी भी धार्मिक ग्रंथ का पाठ करें, 6. जीवित माता – पिता, वृद्धजनों तथा दिवंगत पितृजनों को प्रणाम करें, 7. मंदिर जाएं। इससे आपके भीतर धैर्य और दूरदर्शिता बढ़ेगी।

मौन – चुप्पी और मौन में अंतर है, यह समझते हुए प्रतिदिन कुछ समय मौन रहें, आपको शांति प्राप्त होगी।

योग – थोड़ी शारीरिक क्रियाएं करें अगर कर सकें तो ध्यान भी करें, इससे आपका आलस्य हटेगा चातुर्थ बढ़ेगा।

सम्पर्क – तीन काम करें – प्रतिदिन या सप्ताह में एक बार 1. अपने माता – पिता, भाई – बहन, जीवनसाथी, संतान के लिए कुछ समय एकांत का आवश्य निकालें और केवल उनके ही साथ रहें। 2. सत्संग करें, किसी संत या विद्वान के साथ बैठें। 3. प्रतिदिन अपने किसी भी मित्र, रिश्तेदार से पत्र या फोन द्वारा उनके सुख – दुख की जानकारी लेते हुए, अवश्य चर्चा करें, चर्चा अकारण और स्नेहवश हो। इससे आपके भीतर प्रेम और सेवा भाव जागेगा।

यह भी पढ़िए  इन ज्योतिषीय उपायों से हो सकते हैं आपको सपने में हनुमान जी के दर्शन, सफल हो सकता है जीवन