दक्षिण भारत में एक भाजपा युवा नेता के नई करेंसी के 20 लाख रुपये के साथ पकडे जाने के बाद एक और मामला सामने आया है जिसमें पुलिस ने यूपी के एक भाजपा नेता की गाडी से 2000 रुपये के नोटों में 95 लाख रुपये जब्त किये हैं. नोटबंदी के बाद से देशभर के कालेधन के कुबेरों में हड़कंप मचा है। कालेधन के सौदागर अपनी काली कमाई को ठिकाने लगाने की जुगत में जुटे हुए हैं।

pradhan mantree narendra modi rally 95 lakh new currency notes in UPताजा मामला उत्तर प्रदेश का है. यूपी पुलिस ने 2000 रुपए के नए नोटों से भरी एक गाड़ी पकड़ी है। उस गाड़ी में 2000 की नई करेंसी के 95 लाख रुपए मिले। गाड़ी को जब्त कर लिया है। पुलिस ने सिविल लाइंस में चेकिंग के दौरान गाड़ी को पकड़ा। पुलिस ने बताया कि गाड़ी में पांच लोग बैठकर जा रहे थे। पुलिस को कुल 95,18,000 रुपए की नकदी मिली। पुलिस ने बताया कि उन्होंने पैसे के बारे में जब गाड़ी में बैठे लोगों से पूछा तो वे संतुष्ट करने वाला जवाब नहीं दे पाए।

इस मामले में सबसे बड़ी बात जो सनसनी फैला रही है वो ये है कि इस गाड़ी पर भाजपा का झंडा लगा हुआ था। आशंका है कि ये पैसे आगामी उत्तर प्रदेश चुनाव के मद्देनजर इधर से उधर किये जा रहे थे। गौरतलब हो कि कल प्रधानमंत्री मोदी की मुरादाबाद में चुनावी रैली है।

आगे की कार्रवाई के लिए मामले की रिपोर्ट को इनकम टैक्स विभाग को सौंप दिया गया है। 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के एलान के बाद कई ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

यह भी पढ़िए  घर में कितना सोना रखने पर नहीं होगा जब्त? सरकार ने बनाये नए नियम

भाजपा से जुड़े लोगों से नयी करेंसी में लाखों रुपये के नोट बरामद होने की बढ़ती घटनाओं के पीछे कुछ लोगों का मानना है कि इसका मकसद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के काले धन के खिलाफ अभियान को रोकना है और ऐसा षड्यंत्र के तहत किया जा रहा है.