दिल्ली सरकार द्वारा चलायी गयी ODD Even योजना जिसे 15 दिनों के लिए लागू किया गया था, का कुल खर्च सरकार को 20 करोड़ रूपए आया है!

odd even formula test on 3 january full traffic aap dilli governmentइस रकम का एक बड़ा हिस्सा प्राइवेट बसों को चलाने में किया गया! सरकार के अनुसार 14 करोड़ रुपयों का खर्च सार्वजानिक परिवहन सुधरने के लिए प्राइवेट बसों को भाड़े पर लेने में हुआ !

जबकि 3.5 करोड़ रूपए सिविल डिफेन्स वालंटियर्स को दिए गए जिन्होंने ट्रैफिक पुलिस के साथ दिल्ली वासियों को ODD Even योजना पर अमल करने के लिए प्रोत्साहित किया!

इस स्कीम को प्रचारित करने के लिए दिल्ली सरकार ने 4 करोड़ रूपए खर्च किये जबकि 3 करोड़ रूपए इवेंट प्रमोशन में खर्च हुए तथा अंत में दिल्ली सरकार के थैंक्सगिविंग प्रोग्राम के प्रचार में 1 करोड़ रूपए खर्च हुए!

माना जा रहा है कि ODD Even स्कीम के दौरान 5000 से अधिक सिविल डिफेन्स वालंटियर्स कि सहायता ली गयी थी, जिनको 500 रूपए प्रतिदिन का पारिश्रमिक के हिसाब से 13 दिनों का पारिश्रमिक मिला जो कि कुल मिला कर 3.5 करोड़ से अधिक है!

इस योजना की सफलता से उत्साहित दिल्ली सरकार कुछ ही दिनों में फिर से इस स्कीम को दिल्ली में लागु कर सकती है!

[poll id=”3″]

यह भी पढ़िए  अरविन्द केजरीवाल पर स्याही फेंकने वाली महिला आम आदमी सेना की पंजाब यूनिट की मुखिया