दिल्लीः 500 और 1000 रुपये की नोटबंदी के बाद अब सरकार ने घर में रखे सोने के लिए नए नियम लाने की तैयारी कर ली है. वित्त मंत्रालय के द्वारा जारी सफाई ने जनता के मध्य चल रही अफवाहों पर विराम लगाने की कोशिश की है. अपनी आय के हिसाब से सोना रखने पर आपके लिए कोई खतरा नहीं है. वित्त मंत्रालय ने कहा है कि आपकी घोषित आय और घरेलू बचत से खरीदे गोल्ड या ज्वैलरी टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे.

ghar mein kitna sona rakh sakte hainक्या हैं घर में सोना रखने के नए नियम:

  • नए नियमों के तहत शादीशुदा महिलाओं के पास 500 ग्राम तक के सोने पर कोई हिसाब नहीं मांगा जाएगा और उनके पास इतना सोना होने पर कोई पूछताछ नहीं होगी.
  • विवाहित महिला का 500 ग्राम तक का सोना जब्त नहीं होगा.
  • वहीं अविवाहित लड़कियां 250 ग्राम सोना रखने पर आयकर जांच से बाहर रहेंगी. वहीं एक घर में 100 ग्राम तक के पुरुषों के गहने मिलने पर कोई हिसाब नहीं मांगा जाएगा.
  • घर में रखे सोने पुश्तैनी गहनों और सोने पर भी टैक्स नहीं लगेगा. आपके पास इसका हिसाब होगा तो आयकर विभाग की छापेमारी में छूट मिल जाएगी.
  • ब्रांडेड और अनब्रांडेड सिक्कों पर भी 12.5 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी लगाने का ऐलान हुआ है और कानूनी तरीके से पुरखों से मिला सोना साबित करने पर भी टैक्स नहीं लगेगा.

ये नियम उन लोगों के लिए हैं जिनके यहां आयकर का छापा पड़ सकता है. आयकर का छापा पड़ने पर सोने की तय लिमिट से ज्यादा सोना पाए जाने पर ही आपसे पूछताछ होगी. अगर सोने की मात्रा ज्यादा पाई जाती है लेकिन आपके पास उसका हिसाब है तो भी आपको घबराने की जरूरत नहीं है. इसके साथ-साथ लोगों की आय के हिसाब से सोना रखने पर कोई पाबंदी नहीं होगी. आयकर के छापों में इससे ज्यादा अगर किसी के पास सोना मिलता है तो वो जब्त कर लिया जाएगा. वित्त मंत्री अरुण जेटली का कहना है कि जिन लोगों ने अपनी घोषित आय या बचत से सोने के गहने खरीदे हैं उन्हें भी टैक्स नहीं देना पड़ेगा.

यह भी पढ़िए  नोटबंदी को लेकर हमलावर हुई भाजपा, राहुल गांधी के भूकंप लाने वाले बयान पर जावड़ेकर ने कसा तंज

नोटबंदी के बाद काले धन को सफेद करने के लिए लोग सोना खरीद रहे थे. ऐसे लोगों पर नकेल कसने के लिए ही मोदी सरकार ने ये नया फैसला लिया है. इसके साथ ही हिंदू धर्म अधिनियम के मुताबिक इतना सोना घर में रखने की इजाजत पहले से ही है . लिहाजा सरकार ने देश में चल रही अफवाहों पर विराम लगाने के लिए देश के सामने अपना पक्ष रखा है.

क्या है वित्त मंत्रालय की सोने को घर में रखने की सीमा को लेकर सफाई देने की वजह?

जब सरकार ने इनकम टैक्स कानूनों में संशोधन किए तो उसके बाद लोगों के बीच सोने को लेकर अटकलें चल रही थीं और अफवाह थी कि सरकार सोने पर भी नया टैक्स लगाएगी और घर में रखे सोने पर भी नजर रखी जा रही है. लेकिन अब वित्त मंत्रालय के स्पष्टीकरण के बाद लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है. नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स में नए संशोधनों के बाद सोने पर चल रही अटकलों पर वित्त मंत्रालय ने स्थिति साफ कर दी है.