Essay in Hindi on Narendra Modi for students (Narendra Modi par nibandh)

भारत के 15वें प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदर दस मोदी है. उनका जन्म 17 सितम्बर 1950 को हुआ था. 26′ मई 2014 को भारत का प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी गुजरात के 4 बार मुख्यमंत्री रह चुके थे. उनके नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी को तीन बार चुनावों में गुजरात में जीत हासित हुई थी.

Essay in Hindi on Narendra Modiगुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए उनकी छवि एक सफल, ईमानदार और कठोर प्रशासक की बनी जिसके चलते सन् 2014 के चुनाव में भाजपा ने उन्हें प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित कर चुनाव लड़ा और भाजपा को इस चुनाव में नरेंद्र मोदी के चमत्कारिक व्यक्तित्व, करिश्माई भाषण शैली और विकास उन्मुख चुनाव घोषणा पात्र के चलते अभूतपूर्व समर्थन मिला और पहली बार भाजपा सम्पूर्ण बहुमत के साथ 282 सीटें जीतकर सत्ता में आई.

नरेंद्र मोदी प्रभावी वक्त है और सुशिक्षित हैं. उन्होंने राजनीति विज्ञान में एमए की योग्यता प्राप्त की है.

आज नरेंद्र मोदी को भारत के इतिहास का सफल शिखर पुरुष माना जाता है. किन्तु उनका जीवन हमेशा इतना आसान नहीं रहा है. नरेंद्र मोदी का बाल्यकाल बहुत संघर्ष पूर्ण बीता. बचपन में उन्होंने रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने के काम में अपने पिता का हाथ बंटाया और साथ ही शिक्षा भी प्राप्त की. बड़े होने के बाद उन्होंने स्वयंसेवक संघ की सदस्यता ग्रहण की और नियमित शाखाओं में जाने लगे.

आगे चल कर वे आरएसएस के सफलतम प्रचारक बने. फिर उन्होंने सक्रीय राजनीति का रास्ता पकड़ा और विभिन्न राज्यों के प्रभारी रहते हुए प्रशासन के गुण सीखे. फिर गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने सफलता के नए आयाम प्राप्त किया और आज उनकी जिनकी भारत के सबसे सफल मुख्यमंत्रियों में होती है जिनके शासनकल में विकास की नयी नयी इबारतें लिखी गई.

यह भी पढ़िए  नरेन्द्र मोदी पर निबंध - Narendra Modi Essay in Hindi

यह भी पढ़िए – नरेंद्र मोदी पर निबंध (simple essay on narendra modi)

उनके द्वारा गुजरात में किये विकास कार्यों की चलते मिली प्रसिद्धि ने ही उनके नेतृत्व में भाजपा की पहली बार सम्पूर्ण बहुमत की सरकार बनवाई. प्रधानमंत्री बनने के बाद से उनके नेतृत्व में भारत की साख अंतर्राष्ट्रीय जगत में बड़ी है और भारत की छवि एक तेजी से विकासोन्मुख देश की बनी है. आशा है भारत उनके नेतृत्व में ऐसे ही तरक्की के पथ पर बढ़ता रहेगा.