किस आधार पर दिया गया अडानी को कर्ज? CIC ने कहा-नहीं दी जा सकती जानकारी

एक याचिका कर्ता द्वारा दायर की गयी याचिका की सुनवाई करते हुए केंद्रीय सूचना आयोग (CIC) ने कहा है की उद्योगपति गौतम अडानी को भारतीय स्टेट बैंक द्वारा दिए गए लोन के बारे में जानकारी नहीं दी जा सकती! रमेश रणछोड़दास जोशी यह जानना चाहते थे कि किस आधार पर अडानी ग्रुप तो इतना बड़ा लोन दिया गया और क्या यह लोन आस्ट्रेलिया के कोयला खानों से संबंधित था।
adani loan
केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने कहा है कि उद्योगपति गौतम अडाणी की कंपनियों को दिए गए कर्ज से जुड़े रिकॉर्ड सार्वजनिक नहीं किए जा सकते हैं, क्योंकि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने संबंधित सूचनाओं को अमानत के तौर पर रखा है और इससे वाणिज्यिक भरोसा जुड़ा है।
गौरतलब है कि अडानी की कंपनी को ऑस्ट्रेलिया में खदानों की खुदाई का ठेका मिला है, विरोधी पार्टियों का आरोप है कि अडानी को इस प्रोजेक्ट के कार्यान्यवन के लिए स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया से बड़ी राशि कर्ज के रूप में मिली है!
यह भी पढ़िए  सरकार लगाएगी 500 और 1000 के नोटों के एक्सचेंज पर पाबंदी, करना होगा बैंक में जमा
आमिर

Author: आमिर

नमस्कार दोस्तों! मेरा नाम आमिर नसीर है और मैं मुख्यतः देश विदेश की राजनीति तथा आपके मनोरंजन से जुड़े मुद्दों पर लिखता हूँ, आप मुझसे मेरे फेसबुक प्रोफाइल पर जुड़ कर अपने सुझाव दे सकते हैं! धन्यवाद!