नोटबंदी को लेकर हमलावर हुई भाजपा, राहुल गांधी के भूकंप लाने वाले बयान पर जावड़ेकर ने कसा तंज

javdekar lashes out at rahul gandhi on demonetisation and black money

नई दिल्ली: ऐसा लग रहा है कि भाजपा राहुल गाँधी को नोटबंदी मामले में हमलावर होने का मौका नहीं देना चाहती. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भ्रष्टाचार की जानकारी होने का दावा करने वाले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर बीजेपी ने जोरदार पलटवार किया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को राहुल को बोलने की चुनौती देते हुए कहा कि वह जितना बोलेंगे कांग्रेस उतनी ही बेनकाब होगी। राहुल के भूकंप वाले बयान पर तंज कसते हुए जावड़ेकर ने कहा कि राहुल के बोलने से संसद में भूकंप नहीं आएगा, बल्कि उनके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी।

javdekar lashes out at rahul gandhi on demonetisation and black moneyविपक्ष को आड़ेहाथों लेते हुए जावड़ेकर ने विपक्ष पर कालेधन को सफेद करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘हम देश बदलने में जुटे हैं, ये नोट बदलने में लगे हैं। ये लोग यही धंधा कर रहे हैं।’ जावड़ेकर ने कहा कि विपक्ष नोटबंदी का विरोध इसलिए कर रहा है क्योंकि उसके स्वार्थ पर आंच आई है।

पिछले कुछ दिनों से नोटबंदी को लेकर असज दिख रही भाजपा के तेवरों में अचानक से फिर से तल्खी आ गयी है और भाजपा नेता नोटबंदी को लेकर किसी भी सवाल पर आक्रामक रुख अपना रहे हैं. प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि ‘हम तो चाहते हैं कि राहुल गांधी बोलें, जितना वह बोलेंगे कांग्रेस उतनी ही बेनकाब होती जाएगी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के बोलने से भूकंप नहीं आएगा बल्कि उनके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी।’

अपनी स्ट्रेटेजी के तहत भाजपा की प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर किसी भी तरह के हमले को रोकने के लिए दुगने जोर से आरोप की रणनीति के तहत जावड़ेकर ने प्रधानमंत्री के सदन में मौजूद रहने की मांग की मांग पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा, ‘ये लोग बोल रहे हैं कि पीएम को राज्यसभा में आना चाहिए, यहां लगातार रहना चाहिए। कल ये कहेंगे कि पीएम को एक साथ एक ही वक्त पर लोकसभा और राज्यसभा में होना चाहिए। क्या उन्हें होलोग्राम से दोनों जगह दिखाएं?’ राहुल गांधी के इस बयान को जावड़ेकर ने झूठा बताया जिसमें उन्होंने कहा था कि विपक्ष बिना शर्त चर्चा को तैयार है। उन्होंने कहा, ‘इससे बड़ा झूठ कुछ और नहीं हो सकता। आप रोज सदन की कार्यवाही में बाधा डाल रहे हो। कांग्रेस, सपा, बसपा…ये सभी पार्टियां सदन नहीं चलने दे रहीं। कुछ लोग बोलना चाहते हैं पर आप उन्हें बोलने नहीं देते।’

यह भी पढ़िए  भाजपा ने सर्बानंद सोनोवाल पर लगाया दांव, बनाया आसाम में मुंख्य्मन्त्री उम्मीदवार

नोटबंदी को लेकर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए जावड़ेकर ने सरकार की स्कीम को लेकर कहा कि यह कालेधन को सफेद करने का अभियान नहीं है, यह टैक्स चोरी के खिलाफ कार्रवाई है और इसमें किसी को कानून से माफी नहीं दी जा रही है। विपक्षी दलों को संसद न चलने देने का अपराधी बताते हुए जावड़ेकर ने कहा कि कभी ये लोग संसद में 444 थे, यही रवैया रहा तो 4 पर आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश के लोग प्रधानमंत्री को इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि उनकी छवि पर एक भी दाग नहीं है।