आंवला के बेहद लाभकारी घरेलु नुस्खे Amla Home remedy in Hindi

Amla Home remedy in Hindi

Amla Home remedy in Hindi आंवला के बेहद लाभकारी घरेलु नुस्खे

आंवला प्राकृति का दिया हुआ ऐसा तोहफा है जिससे हमारे शरीर में पनप रही कई सारी बीमारियों का नाश हो सकता है। यदि आपको अच्छी  सेहत का मालिक बनना है तो आंवला का जूस अभी से ही पीना शुरु कर दें। आंवला में आयरन और विटामिन सी भरा होता है। हर इंसान को प्रतिदिन 50 मिली ग्राम विटामिन सी की जरूरत होती है तो ऐसे में यदि आप आंवला का सेवन या फिर इसके रस का सेवन करेंगे तो आपके शरीर में विटामिन सी की पूर्ती होगी। आइये हम आपको आंवले के कुछ बहुत ही गुणकारी घरेलु नुस्खे बताते हैं Amla Home remedy in Hindi):

Amla Home remedy in Hindiआंवले का जूस रोजाना लेने से पाचन दुरुस्त, त्वचा में चमक, त्वचा के रोगों में लाभ, बालों की चमक बढाने, बालों को सफेद होने से रोकने के अलावा और भी बहुत सारे फायदे हैं, जिसके बारे में आज हम आपको बताएंगे। आंवले का मौसम दिसम्बर से चालू होकर अप्रेल तक रहता है। आंवला का जूस बनाने के लिये उसे छोटे टुकड़ों में काट लीजिये और मिक्सीक में बारीक पीस लीजिये। उसके बाद साफ कपड़े में पीसा गया आवंला डाल कर जूस निकाल लीजिये।

आंवला सेहत से भरा फल है तो ऐसे में आंवले का सेवन आपको कई बीमारियों से निजात दिला सकता है। आइये जानते हैं कि आंवला जूस हमें क्याे क्या फायदा पहुंचा सकता है।

1) अस्थमा में लाभ – यदि आंवला के रस को रोज शहद के साथ लिया जाए तो अस्थमा और ब्रोंकाइटिस की बीमारी में लाभ मिल सकता है।

2) कब्ज की बीमारी कंट्रोल करे – आंवला का रस पेट की पाचन क्रिया को बढाता है और भयंकर कब्ज की बीमारी दूर करता है।

3) खून साफ करे – आंवला रस को शहद के साथ पीने से खून साफ होता है।

4) पेशाब की जलन को मिटाए – यदि पेशाब में जलन होती है तो 30 एमएल, आंवला रस दिन में दो बार रोज पीजिये।

5) अत्यंधिक ब्लीडिंग रोके – यदि पीरियड्स के समय ज्यादा ब्लीगडिंग होती है तो आंवला रस को रोजाना तीन बार केले के साथ लीजिये।

यह भी पढ़िए  एलोपैथिक दवाइयों की जगह अपनाइए ये घरेलू नुस्खे और साइड एफेक्ट से बचिए

6) झाइयां मिटाए और चेहरे को चमकाए – रोज सुबह आंवला का रस शहद के साथ पीने से आपका चेहरा चमकदार बनेगा और झाइंया मिटेंगी।

7) हृदय रोग दूर करे – यह दिल की मासपेशियों को मजबूत बनाता है और हृदय रोग से दूर रखता है।

8) पाइल्स का इलाज – पाइल्स  के समय पैदा होने वाले कब्ज से आंवला का रस राहत दिलाता है।

9) आंखों की रौशनी बढाए – आंवला जूस नियमित पीने से आंखों की रौशनी बढाती है।

10) मुंहासो को मिटाए – आमला जूस चेहरे पर पैदा होने वाले एक्ने  और मुंहासो से निजात दिलाता है।

11) डायबिटीज कंट्रोल करे – मधुमेह रोगियों के लिये आंवला जूस वर्दान है। इसे शहद और हल्दीे पाउडर के साथ पीने से मधुमेह कंट्रोल होता है।

आंवले के कुछ और आयुर्वेदिक उपाय(Amla ke ayurvedik upay):

1. गर्भवती स्त्रियों को आंवला अवश्य लेना चाहिये। किसी भी रूप में लें।

2. आंवला एक अंण्डे से अधिक बल देता है।

3. आंवला ब्लडप्रेशर वालों के लिये लाभप्रद है।

4. आंवला टूटी हड्डियों को जोड़ने वाला है।

5. जिन्हें नकसीर होता हो (नाक से खून) सूखा आंवला रात में भिगाकर उस पानी से सर धोयें। आंवले का मुरब्बा खायें। आंवले का रस नाक में टपकायें।

6. आंवले का चूर्ण मूली में भरकर खाने से मूत्राशय की पथरी में लाभ होता है।

7. आंवले के रस में शहद मिलाकर खाने से मधुमेह में लाभ होता है।

8. रात के आंवले का चूर्ण भीगो कर पानी पीये सुबह पेट साफ होता है। पाचन शक्ति बढ़ती है।

9. नित्य 1-2 ताजे आंवले का रस पीने से पेट के कीड़े नष्ट होते हैं। पांच दिन तक बराबर पियें।

10. जो लोग स्वस्थ रहना चाहते हैं वो ताजा आंवला का रस शहद में मिलाकर पीने के बाद ऊपर से दूध पियें इससे स्वास्थ अच्छा रहता है। दिन भर प्रसन्नता का अनुभव होता है। नई शक्ति व चेतना देता है। यौवन बहार आयेगा।

11. आंवले का रस पीने से नेत्र ज्योति बढ़ती है।

12. गर्भावस्था में उल्टी हो रही हो, तो आंवले का मुरब्बा खायें।

13. आंवले के चूर्ण का उबटन चेहरे पर लगाये चेहरा साफ होगा दाग धब्बे दूर होंगे।

यह भी पढ़िए  जोड़ों के दर्द के इलाज के घरेलू नुस्खे (Home remedy for joint pain relief)

14. गर्मियों में चक्कर आता हो जी घबराता हो तो आंवले का शर्बत पियें।

15. आवाज बैठ गई हो, तो पिसे आंवले की फंली लें।

16. आंवले में बाल करने के गुण है। आंवला बहुत खट्टा इसलिये सफाई अच्छी करता है बालों की। साथ रोज आंवले का सेवन करें।

17. बुढ़ापा दूर रखता है। सूखे आंवले का चूर्ण 2 चम्मच रोज रोटी में रखकर खायें। बुढ़ापा दूर रहेगा जवानी बनी रहेगी।

आंवले का घरेलू प्रयोग (Amla Home remedy in Hindi)

– अतिसार: कच्चा आंवला पीस कर रोगी की नाभि के चारों ओर कटोरी जैसी बनाकर इस नाभि में अदरक का रस भर दें
– हिचकी: आंवला, कैथ का गूदा, छोटी पीपर का चूर्ण, शहद से चटाएं तो हिचकियां मिट जाएंगी
– अजीर्ण: ताजा आंवला, अदरक, हरा धनिया मिलाकर चटनी बनावें इसमें सेंधा नमक, काला नमक, हींग, जीरा, काली मिर्च मिला चटावें। डकारें आएंगी, भूख खुलेगी, हाजमा बढ़ेगा
– स्त्रियों का बहुमूत्र: आंवले का रस, पका हुआ केले का गूदा, शहद व मिश्री चारों मिलाकर चटाएं
– मूत्र कष्ट: आंवले का 25 ग्राम ताजा रस, छोटी इलायची के बीजों का चूर्ण कर पिलाएं। मूत्र आने लगेगा
– बवासीर: आंवले पीस कर पीठी को मिट्टी के बर्तन में लेप कर दें। इसमें गाय की ताजा छाछ भर रोगी को पिलाएं
– मुंह के छाले और घाव: आंवले के पत्तों के काढे से दिन में 2 से 3 बार कुल्ले कराएं
– श्वेत प्रदर: आंवले की गुठली फोड़ कर निकाले बीजों का चूर्ण पानी से पीस कर शहद व मिश्री मिला पिलाएं
– नेत्रों के रोग: आंवला छिलका दरदरा कूट कर पानी में भिगोकर रखें। इसे कपड़े से साफ छान कर दिन में तीन बार 2-2 बूंद आंखों में टपकाएं

आंवले के वजन घटाने के नुस्खे (Weight loss Amla Home remedy in Hindi):

बनाएं आंवले का जूस – कच्चा आंवला खाने में कड़ा और बेहद खट्टा होता है जिससे दांतों में भी एक पल के लिए सिरहन आ जाती है। इसलिए आप आंवलें का रस बनाकर उसे ठंडी जगह पर रख सकते हैं। और डेली 3 से 4 दिनों तक पानी के साथ आंवले के जूस को मिलाकर सेवन करें। याद रखें आंवले के जूस को 4 दिन से अधिक न रखें। चौथे  दिन फिर से आंवले का जूस बनाकर रख लें। और सेवन करें। कुछ ही सप्ताह में आपको अपने शरीर में फर्क दिखने लगेगा।

यह भी पढ़िए  घरेलु नुस्खे जिनसे निखर सकता है आपका चेहरा chehre ka rang nikharne ke liye gharelu nuskhe

चरबी कम करता है – आंवले में मौजूद गुण शरीर के मेटाबोल्जिम को ठीक बनाकर रखते हैं जिस वजह से शरीर में मौजूद अत्याधिक चरबी घटती है। आंवले में मिनरल और प्रोटीन की सही मात्रा होती है। इसलिए वजन घटाने में बेहद फायदेमंद होता है। आंवला पेट संबंधी बीमारियां जैसे कब्ज, पेट दर्द आदि को दूर करता है और पेट को साफ बनाता है।

आंवले का फल – यदि आप आंवले के फायदों और इसके हितकारी गुणों के बारे में जानकर सुबह कच्चा आंवला खा सकते हो तो आपके शरीर में फाइबर की मात्रा अधिक बढ़ेगी और वजन कम होगा। नियम बनाएं 1 कच्चा आंवला सुबह खाली पेट।

पुरानी कब्ज और वजन घटाएं – आंवले में खाना पचाने की शक्ति होती है। जो पुरानी से पुरानी कब्ज मे राहत देती है। और इस गुण से वजन कम करने में आसानी होती है साथ ही शरीर मे उर्जा और चेहरा साफ होता है।

सूखे आंवले का प्रयोग – आंवला पूरे साल नहीं मिलता है लेकिन आप आवलें को सूखाकर भी प्रयोग में ला सकते हो। आप सूखे आंवलों को चीनी की चाशनी में डालकर भी सेवन कर सकते हो।

मुरब्बे का प्रयोग – आंवले का मुरब्बा वजन कंट्रोल करने में अहम भूमिका निभाता है। इसलिए आप आंवले के मुरब्बे का प्रयोग भी कर सकते हो। पूरे साल आंवला नहीं मिलता है इसलिए आप मुरब्बे के रूप में इसे रख सकते हो।

आंवले का पाउडर – यदि आप कच्चा आंवला नहीं ले सकते हो तो आंवले का चूर्ण आपको आसानी से बाजार में मिल जाता है। आप चूर्ण का प्रयोग उसमें दिए गए नियमो के हिसाब से कर सकते हो।

आंवले खाने से शरीर में नाइट्रोजन और प्रोटीन का स्तर संतुलित रहता है जो वजन को घटाने का काम करते हैं।
फाइबर की मात्रा अधिक होने की वजह से आंवला पेट को साफ रखता है।

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
सरिता महर

Author: सरिता महर

हेल्लो दोस्तों! मेरा नाम सरिता महर है और मैं रिलेशनशिप तथा रोचक तथ्यों पर आप सब के लिए मजेदार लेख लिखती हूँ. कृपया अपने सुझाव मुझे हिंदी वार्ता के माध्यम से भेजें. अच्छे लेखों को दिल खोल कर शेयर करना मत भूलना