भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गोरखपुर हादसे के बाद एक विवादित बयान दे दिया है. कांग्रेस द्वारा योगी के इस्तीफा पर जब उनसे सवाल किया गया तब श्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस का काम ही है इस्तीफा मांगना, इतने बड़े देश में बहुत से हादसे हुए हैं, पहली बार ऐसा कोई हादसा नहीं हुआ.

योगी आदित्यनाथ का बचाव करते हुए अमित शाह ने कहा “हम कांग्रेस कि तरह बिना जांच के गलती किसी पर नहीं थोपते. योगी जी ने जांच के आदेश दे दिए हैं और नतीजे आने पर हम कार्यवाही करेंगे. योगी जी ने टाइम बाउंड जांच रखा है. ये हादसा है, ये गलती है. हम गरीबों के लिए काम करते रहेंगे.”

steefa tweet

अमित शाह के इस बयान से बाद घमासान मचना तय है. सोशल मीडिया पर उनके बयान पर लोग बिफर पड़े हैं. एक ट्विटर यूजर के अनुसार- हादसे पहली बार नहीं हो रहे परन्तु जिमेदारी तो तय होनी चाहिए. ऐसे बेशर्मी से बयान देना भाजपा अध्यक्ष का घमंड दिखाता है.

आपको बता दें कि पिछले दिनों गोरखपुर में ऑक्सीजन सप्लाई बंद हो जाने के बाद एक साथ ३० से अधिक बच्चों कि मृत्यु हो गयी. जापानीज इंसेफेलाइटिस से लगातार हो रही इन मौतों पर अमित शाह से सवाल पूछे जा रहे थे जिसके जवाब पर उन्होंने यह बयान दिया.