दिल्ली.अंडरवर्ल्ड डॉन और 1993 मुंबई धमाके के मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम के मामले में भारत को बड़ी कामयाबी मिली है। ब्रिटेन में दाऊद इब्राहीम की सभी संपत्ति जब्त कर ली गई है। ब्रिटिश सरकार ने पिछले महीने दाऊद का नाम आर्थिक पाबंदियों वाली सूची में डाला था। मीडिया में सीज़ सम्पति कहीं 4 हज़ार,कहीं 42 हज़ार और कहीं 6.7 बिलियन डॉलर यानी 43 हजार करोड़ लिखी जा रही लेकिन सही आंकड़े अभी भी नदारद हैं.भारत दाऊद इब्राहिम कास्कर के खिलाफ कार्रवाई के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के बीच दबाव बनाये हुए है. ब्रिटेन के प्रमुख अखबार बर्मिंघम मेल ने इस संबंध में प्रमुखता से खबर प्रकाशित की है. अखबार ने लिखा है कि 61 वर्षीय भारतीय नागरिक दाऊद इब्राहिम 21 अलग-अलग नामों से रहता है.

उल्लेखनीय है कि इसके लिए भारत सरकार ने पहले ही ब्रिटेन को डॉजियर दे दिए थे। ब्रिटेन वित्त मंत्रालय की ओर से जारी ‘फाइनैंशल सैंक्शंस टार्गेट्स इन द यूके’ नामक लिस्ट में माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम के पाकिस्तान स्थित 3 पतों का जिक्र किया गया था।ब्रिटेन की लिस्ट के अनुसार ‘कासकर दाऊद इब्राहिम’ के पाकिस्तान में तीन पते- हाउस नं. 37, गली नंबर 30, डिफेंस हाउसिंग अथॉरिटी, कराची, पाकिस्तान, नूराबाद, कराची, पाकिस्तान और वाइट हाउस, सऊदी मस्जिद के पास, क्लिफ्टन, कराची शामिल हैं। फोर्ब्स मैगजीन के अनुसार दाऊद इब्राहीम की कुल संपत्ति 6.7 अरब डॉलर है।

ब्रिटेन के अखबार बर्मिंघम मेल ने फोर्ब्स बिजनेस मैग्जीन के हवाले से लिखा है कि कोलंबिया के ड्रग तस्कर पाब्लो एस्कोबार के बाद दाऊद दुनिया का दूसरा सबसे अमीर क्रिमिनल है. इससे पहले ब्रिटेन की ओर से एक रिपोर्ट जारी की गई थी, जिसमें कहा गया था कि दाऊद ब्रिटेन में 21 फर्जी नामों से रह रहा है.उसके 21 नामों में अब्दुल, शेख इस्माईल, अब्दुल अजीज, अब्दुल हमीद, अब्दुल रहमान, शेख, मोहम्मद इस्माईल, अनीस इब्राहिम, शेख मोहम्मद भाई, बड़ा भाई, दाऊद भाई, इकबाल, दिलीप, अजीज, इब्राहिम, दाऊद, फारूकी, अनीस इब्राहिम, दाऊद, हसन, शेख, कासकर, दाऊद हसन, शेख इब्राहिम, मेमन कासकर, दाऊद हसन, इब्राहिम मेमन, दाऊद इब्राहिम, साबरी दाऊद, साहब हाजी और सेठ बड़ा के नाम शामिल हैं.